Friday , December 1 2023
Home / अन्तर्राष्ट्रीय / तमिलनाडु-आंध्र में चक्रवातीय तूफान ‘वरदा’, कई जिलों में स्कूल बंद

तमिलनाडु-आंध्र में चक्रवातीय तूफान ‘वरदा’, कई जिलों में स्कूल बंद

2016-12-07चक्रवातीय तूफान ‘वरदा’ आज उत्तर तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र प्रदेश के बीच के इलाके को अपनी चपेट में ले लेगा. दोनों तटीय राज्यों ने इससे निपटने के लिए कई उपाय किए हैं. तमिलनाडु ने चार जिलों में सभी शैक्षणिक संस्थानों में छुट्टियों की घोषणा कर दी है.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बंगाल की खाड़ी से लगे समूचे आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु में अलर्ट जारी कर दिया गया है. क्षेत्रीय मौसम केंद्र ने बताया कि वरदा रविवार को दोपहर ढाई बजे चेन्नई से 330 किलोमीटर पूर्व में केंद्रित था. सोमवार दोपहर यह उत्तर तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र प्रदेश को अपनी चपेट में लेने से पहले पश्चिम की ओर बढ़ेगा.

80-90 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से बहेगी हवाएं

‘एरिया साइक्लोन वार्निंग सेंटर’ के निदेशक एस बालचंद्रन ने बताया कि इसके प्रभाव से बारिश रात में शुरू हुई बारिश चेन्नई, तिरूवल्लूर और कांचीपुरम जिलों में धीरे-धीरे बढ़ती जाएगी. सोमवार को इन जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है. 80 से 90 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं बह सकती हैं. उन्होंने बताया कि समुद्र अशांत रहेगा. साथ ही मछुआरों को अगले 48 घंटों में समंदर में नहीं उतरने को कहा गया है.

तमिलनाडु में सशस्त्र बलों से भी तैयार रहने को कहा

मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेलवम ने तमिलनाडु राज्य आपदा प्रबंध प्राधिकारण की एक बैठक की जिसने सशस्त्र बलों से भी तैयार रहने को कहा. राज्य सरकार ने विल्लपुरम के तटीय तालुकों के अलावा चेन्नई, कांचीपुरम और तिरूवल्लूर में शैक्षणिक संस्थानों में छुट्टियां घोषित कर दी है.

आंध्र के सीएम चंद्रबाबू ने टेलीकांफ्रेंस के जरिए लिया जायजा

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने कलेक्टरों और शीर्ष अधिकारियों के साथ टेलीकांफ्रेंस के जरिए हालात की समीक्षा की. उन्होंने अलर्ट रहने और जरूरी राहत एवं बचाव कार्य करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि पर्याप्त मात्रा में भोजन और अन्य आवश्यक वस्तुएं तैयार रखी जाएं.

चेन्नई पहुंचने तक कम हो सकती है तीव्रता

मौसम विभाग ने अपनी वेबसाइट पर मौसम चेतावनी में कहा कि उत्तरी तटीय तमिलनाडु, पुडुचेरी और दक्षिणी आंध्र प्रदेश में आज शाम से ही भारी बारिश होने की आशंका है. इसमें कहा गया है कि रविवार रात से समुद्र की स्थिति प्रतिकूल रहने की आशंका है. चक्रवात के पहुंचने के समय लहरों के करीब एक मीटर तक उठने की आशंका जताई गई है. उम्मीद जताई गई है कि चेन्नई पहुंचने तक इसकी तीव्रता कम हो जाएगी.

नजर बनाए हुए है दोनों राज्यों के मुख्य सचिव और पीएमओ

इस बीच नई दिल्ली में मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान के बारे में प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) और कैबिनेट सचिवालय को इससे अवगत कराया. भारतीय मौसम विभाग के महानिदेशक के जे रमेश ने कहा, ‘‘मैंने व्यक्तिगत रूप से तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिवों से मुलाकात की और क्षेत्रीय मौसम विभाग दोनों प्रदेशों में आपदा प्रबंधन आयुक्तों से लगातार संपर्क में हैं.’’

पाकिस्तान ने दिया है चक्रवात ‘वरदा’ का नाम

भीषण चक्रवातीय तूफान ‘वरदा’ का नाम पाकिस्तान ने दिया है. फिलहाल इस चक्रवात का असर बंगाल की खाड़ी में है. ‘वरदा’ का अर्थ है ‘लाल गुलाब’ और सोमवार तक इसके उत्तरी तमिलनाडु एवं दक्षिण आंध्र प्रदेश को अपनी चपेट में लेने की आशंका है. जैसे-जैसे यह नजदीक आएगा इसकी तीव्रता धीरे धीरे कम होने की संभावना है.

ओमान ने दिया था चक्रवातीय तूफान ‘नाडा’ का नाम

हिंद महासागर क्षेत्र में चक्रवातों के नाम इसके सदस्य देश भारत, श्रीलंका, बांग्लादेश, थाईलैंड, म्यांमार, मालदीव अैर ओमान करते हैं. इससे पहले ‘नाडा’ चक्रवात ने चेन्नई को प्रभावित किया था. इस नाम का सुझाव ओमान ने दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *