Wednesday , May 31 2023
Home / फोटो गैलरी / देवभूमि के इस हिल स्टेशन की अनछुई हरियाली के सामने फीका है स्विट्जरलैंड

देवभूमि के इस हिल स्टेशन की अनछुई हरियाली के सामने फीका है स्विट्जरलैंड

देवभूमि के इस हिल स्टेशन के सामने स्विट्जरलैंड का प्राकृतिक सुंदरता भी फीकी है। तस्वीरों में देखिए..
चोपता की कुदरती खूबसूरती और अनछुई हरियाली आपके दिलो-दिमाग में उतर जाएगी। यहां की नम हवा आपके तन-मन को तरोताजा कर देगी। उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में समुद्र तल से 9515 फुट की ऊंचाई पर बसे चोपता एक पड़ाव हैchopta_1479205968
जहां केदारनाथ और बद्रीनाथ के बीच चलने वाली गाड़ियां सुस्ताने के लिए रुकती हैं।चोपता की कुदरती खूबसूरती और अनछुई हरियाली आपके दिलो-दिमाग में उतर जाएगी। यहां की नम हवा आपके तन-मन को तरोताजा कर देगी।
उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में समुद्र तल से 9515 फुट की ऊंचाई पर बसे चोपता एक पड़ाव है जहां केदारनाथ और बद्रीनाथ के बीच चलने वाली गाड़ियां सुस्ताने के लिए रुकती हैं।
चोपता की कुदरती खूबसूरती और अनछुई हरियाली आपके दिलो-दिमाग में उतर जाएगी। यहां की नम हवा आपके तन-मन को तरोताजा कर देगी। उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में समुद्र तल से 9515 फुट की ऊंचाई पर बसे चोपता एक पड़ाव है जहां केदारनाथ और बद्रीनाथ के बीच चलने वाली गाड़ियां सुस्ताने के लिए रुकती हैं
चोपता की कुदरती खूबसूरती और अनछुई हरियाली आपके दिलो-दिमाग में उतर जाएगी। यहां की नम हवा आपके तन-मन को तरोताजा कर देगी। उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में समुद्र तल से 9515 फुट की ऊंचाई पर बसे चोपता एक पड़ाव है जहां केदारनाथ और बद्रीनाथ के बीच चलने वाली गाड़ियां सुस्ताने के लिए रुकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *