Saturday , June 10 2023
Home / प्रादेशिक / उत्तर प्रदेश / सपा प्रत्याशी अतीक अहमद ने इलाहाबाद विश्वविधालय में मारपीट किया

सपा प्रत्याशी अतीक अहमद ने इलाहाबाद विश्वविधालय में मारपीट किया

atik-ahamd
दोषी मिले अतीक तो होगी कार्रवाई : शिवपाल

अतीक के खिलाफ दर्ज हैं 44 मामले
1992 में इलाहाबाद पुलिस ने अतीक अहमद का कच्चा चिट्ठा जारी किया था. जिसमें बताया गया था कि अतीक अहमद के खिलाफ उत्तर प्रदेश के लखनऊ, कौशाम्बी, चित्रकूट, इलाहाबाद ही नहीं बल्कि बिहार राज्य में भी हत्या, अपहरण, जबरन वसूली आदि के मामले दर्ज हैं. अतीक के खिलाफ सबसे ज्यादा मामले इलाहाबाद जिले में ही दर्ज हुए. उपलब्ध आकड़ों के अनुसार वर्ष 1986 से 2007 तक ही उसके खिलाफ एक दर्जन से ज्यादा मामले केवल गैंगस्टर एक्ट के तहत दर्ज किए गए

 

atik-ahamd_145_011516071339
दल बदलते रहे अतीक अतीक अहमद ने 1999 में अपना दल का दामन थाम लिया. वह प्रतापगढ़ से चुनाव लड़े पर हार गए. और 2002 में इसी पार्टी से वह फिर विधायक बन गए. 2003 में जब यूपी में सपा सरकार बनी तो अतीक ने फिर से मुलायम सिंह का हाथ पकड़ लिया. 2004 के लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने अतीक को फूलपुर संसदीय क्षेत्र से टिकट दिया और वह सांसद बन गए. उत्तर प्रदेश की सत्ता मई, 2007 में मायावती के हाथ आ गई. अतीक अहमद के हौसलें पस्त होने लगे. उनके खिलाफ एक के बाद एक मुकदमे दर्ज हो रहे थे. इसी दौरान अतीक अहमद भूमिगत हो गए.

समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय में शिक्षकों के साथ हुई मारपीट की घटना को गंभीरता से लेते हुये कहा कि पूरे मामले की जांच कराई जायेगी। अगर इसमें अतीक अहमद दोषी पाये जाते हैं तो कार्रवाई की जायेगी। भाजपा को आड़े हाथ लेते हुये कहा कि मोदी जनता से सिर्फ झूठे वायदे करते हैं। सपा जो कहती है वह करके दिखाती है। मोदी की नोटबंदी के फैसले ने सबको लाइन में खड़ा कर दिया है। हर तपका परेशान है। देश की गति रुक गई है। उन्होंने मायावती को आड़े हाथ लेते हुये कहा कि भाजपा और सपा के बीच साठगांठ है। कहा कि प्रदेश में फिर सपा विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़कर सरकार बनायेगी।

श्री यादव गुरुवार की सुबह मऊ के कुसमौर स्थित एनबीएआईएम के गेस्ट हाउस में पत्रकार वार्ता में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के चलते आज देश का हर तपका परेशान हो गया है। मोदी ने लोगों के खाते में 15 लाख देने के लिये वायदे किये थे। इसे वह पूरा नहीं कर पाये। मोदी केवल जनता से झूठे वायदे करते हैं। नोटबंदी के चलते आज सभी परेशान हैं। गरीब, किसान मजदूर समेत सभी लोगों के सामने परेशानी आ गई है। बिना योजना के लिया गया मोदी का यह निर्णय काफी दुखाई होगा। उन्होंने कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती की भाजपा से साठगांठ है। एक तरफ वह गुजरात में जाकर प्रचार करती है तो दूसरी तरफ राखी भी बांधती है।

उन्होंने कहा कि बसपा पूरी तरह से भ्रष्टाचार में डूबी है। उन्होंने अपनी पार्टी में किसी तरह के अंतरकलह होने से इंकार किया। टिकट बंटवारे को लेकर कहा कि सही उम्मीदवारों की परख करके ही टिकट दिया जा रहा है। इस पर व मिशन 2017 भी विकास के मुद्दे पर ही चुनाव जीतेंगे। उन्होंने कहा कि सपा सरकार ने पांच साल के दौरान जितना कार्य किया है आज तक किसी भी पार्टी ने नहीं किया। उन्होंने कहा की भाजपा जानबूझकर संसद में बहस नहीं करा रही है।क्योंकि इसका पोल खुल जायेगा।

शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि सपा अपने दम पर फिर सरकार बनाने जा रही है। किसी भी दल से गठबंधन नहीं होगा। उन्होंने कहा कि विकास के दम पर वह सूबे में फिर जनता के बीच आयेंगे। इसके लिये सपा लोगों के बीच जा रही है। उन्होंने कहा कि पूववर्ती सरकारों ने सिर्फ भ्रष्टाचार किया। सपा ने अपने कार्यकाल में सीधे लोगों को योजनाओं का लाभ पहुंचाने का कार्य किया है।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा मऊ विधानसभा में मुख्तार के खिलाफ सपा प्रत्याशी को लेकर संसदीय बोर्ड की बैठक में तय होगा। इसपर श्री यादव ने बहुत कुछ बोलने से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि टिकट बंटवारे में किसी भी प्रकार कोई विवाद नहीं है। उन्होंने कहा कि सपा अपने उम्मीदवारों को परख कर उता रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *