जौनपुर में आग से झुलस कर तीन मजदूरों की मौत

बीती रात केराकत कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचवर के दिल्ला का पूरा में तीन मजदूरों की ईंट भट्ठे में आग से झुलस कर दर्दनाक मौत हो गई। सूचना पर पहुंचे सीओ राजकुमार पाण्डेय व कोतवाल शशिभूषण राय ने घटना के बारे में लोगों से पूछताछ की और तीनों शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।_1487093629

बताया गया है कि गांव में छोटे लाल यादव का भट्ठा है। कल देर शाम ईंट पकाने के लिए भट्ठे में आग लगाई गयी लेकिन वह आगे नहीं बढ़ रही थी। उसमें धुंआ नहीं निकल रहा था जिसको देखने के लिए एक मजदूर उसमें उतरा। वह वापस नहीं आया तो फिर दूसरा मजदूर अन्दर गया वह भी वापस नहीं आया।इसके बाद तीसरा मजदूर भी अंदर गया और वह भी वापस नहीं आया। जब समय बीतने लगा तो साथी मजदूर लाइट जलाकर भट्ठे के अन्दर देखने लगे तो तीनों उसी में पड़े हुए मिले। उनका चेहरा व बदन झुलस गये हैं ।

उनके साथीयों ने तीनों मजदूरों को बाहर निकाला। उन्हें इलाज के लिए केराकत ले जाया गया जहां डाक्टरों ने तोनों मजदूरों को मृत घोषित कर दिया। शव उनके परिजनों को सौप दिया गया। इस बारे में रात में प्रशासन को कोई खबर नहीं दी गई।

साथ ही उनके परिजनो को भी कोई मदद नहीं मिली। मरने वालों में शुकुरा मुंडा (40) ग्राम लारंगा, जिला गुमला, झारखंड, विरेन्द (२२) ग्राम कोरवाँ, जिला लोहरदगा झारखण्ड, बन्धन मुंडा (4०) ग्राम टागा सिकवार, जिला गुमला, झारखण्ड शामिल हैं । परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है। वीरेंद्र की अभी शादी हुई थी।