हादसे में तीन भाइयों समेत आठ की मौत

संतकबीरनगर/देव‌र‌िया। गोरखनाथ से मरीज लेकर लखनऊ जा रही एक एंबुलेंस सोमवार की रात राष्ट्रीय राजमार्ग पर चुरेब बाजार स्थित ओवरब्रिज पर खड़े खराब ट्रक में भिड़ गई। एंबुलेंस में सवार सभी आठ लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में ड्राइवर, कंपाउंडर, मरीज और उनके दो सगे भाई समेत आठ लोग शामिल हैं। खबर के बाद मौके पर डीएम और एसपी भी पहुंच गए।_1487093629
 देवरिया जिले के गुदरी बाजार बापू रोड भाटपाररानी निवासी 65 वर्षीय रामचंद्र बरनवाल को दो फरवरी को ब्रेन हैमरेज हो गया था। परिजनों ने उन्हें गोरखनाथ अस्पताल में भर्ती कराया था। सोमवार की रात हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने उन्हें पीजीआई लखनऊ रेफर कर दिया। अस्पताल की एंबुलेंस से रामचंद को लेकर परिजन लखनऊ जा रहे थे। रात करीब पौने बारह बजे राष्ट्रीय राजमार्ग पर चुरेब बाजार स्थित ओवरब्रिज पर खराब खड़े ट्रक से एंबुलेंस भिड़ गई। जोरदार टक्कर की वजह से एंबुलेंस का अगला हिस्सा ट्रक के अंदर घुस गया।हादसे की सूचना पर कांटे चौकी प्रभारी रामभवन यादव हमराहियों के साथ पहुंच गए।
एंबुलेंस से लोगों को निकालने में दिक्कत देख क्रेन और आसपास के थाने-चौकी के पुलिसकर्मी बुलाए गए। जानकारी मिलते ही डीएम रमाकांत पांडेय और एसपी हीरा लाल ,एएसपी अशोक वर्मा, सीओ प्रमोद कुुुमार भी पहुंचे। 20 मिनट बाद पहुंची क्रेन से दोनों वाहनों को अलग करके शवों को बाहर निकाला गया।इस हादसे में एंबुलेंस चालक बैजनाथ विश्वकर्मा (30) निवासी हरपुर थाना फरेंदा जिला महराजगंज, कंपाउंडर हबीबुल्लाह (60) निवासी जाहिदाबाद, गोरखनाथ, गोरखपुर, मरीज रामचंद्र बरनवाल, उनके भाई सुशील बरनाल (57) और मनोज बरनवाल (49), श्वेता बरनवाल (37) निवासी कोपागंज जिला मऊ, कमल पुगलिया (45) निवासी रामपुर बीकानेर राजस्थान और भीम बरनवाल निवासी इमौली थाना नौतन बाजार, जिला सीवान, बिहार की मौके पर मौत हो गई। सूचना पर पीड़ित परिजन मंगलवार को पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचे। पोस्टमार्टम के बाद शवों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया।