आजमगढ़ में अर्थी पर बैठ कर नामांकन भरने पहुंचा प्रत्याशी, आखिर क्यों

 चुनाव आते ही प्रत्याशियों के नए-नए रूप देखने को मिल रहे हैं। सोमवार को भी एक ऐसा ही नजारा आजमगढ़ में  देखने को मिला। जब सगड़ी विधानसभा क्षेत्र से घोषित पूर्व भाजपा प्रत्याशी गोपाल निषाद नामांकन करने पहुुंचे। अर्थी पर बैठे गोपाल निषाद रोटियों की माला पहने और हाथों में कटोरा लिए थे जिससे वह आकर्षण का केंद्र बने हुए थे।gopal-nishad_1486993499
 बताते चलें कि फूलन सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष गोपाल निषाद को सगड़ी का भाजपा प्रत्याशी घोषित किया गया था लेकिन रविवार को पार्टी ने गोपाल निषाद के स्थान पर देवेंद्र सिंह को सगड़ी से प्रत्याशी बनाया।इससे नाराज गोपाल समर्थकों ने रविवार को सगड़ी विधानसभा क्षेत्र के महुला और जीयनपुर राजनाथ और केशव प्रसाद मौर्य का पुतला फूंका।
वहीं, सोमवार को गोपाल निषाद सैकड़ों समर्थकों के साथ अर्थी और कफन के साथ रोटी की माला पहने और हाथों में कटोरा लेकर जुलूस की शक्ल में नामांकन करने पहुंचे। नामांकन के बाद मीडिया कर्मियों से बात करते हुए गोपाल निषाद ने कहा कि हमारे साथ धोखा हुआ है।सगड़ी से बसपा प्रत्याशी वंदना सिंह को जीत दिलाने के लिए उनके टिकट को काटा गया है।

लेकिन अब वह निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में हैं। वह जनता से एक वोट और 10 की नोट मांगकर चुनाव लड़ेंगे।