भूमि विवाद में बालक की हत्या

एक दिन पहले लापता हुए बालक की हत्या कर फेंका गया शव घर के निकट मंगलवार सुबह पाए जाने से सनसनी फैल गई। उसके सिर पर चोट के निशान भी हैं। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना का कोई कारण फिलहाल सामने नहीं आया है लेकिन कुछ लोगों से भूमि विवाद को ही फिलहाल इस घटना से जोड़कर देखा जा रहा है। murder-crime_1485787354
  
उसमापुर गांव निवासी मोहम्मद जीशन (10) पुत्र मोहम्मद इसराइल सोमवार शाम पांच बजे के करीब परिवारीजनों को पंतग खरीदने की बात बताकर घर से निकला था। जब काफी देर तक वह घर नहीं लौटा तो परिवारीजनों को चिंता सताने लगी। उन्होंने आसपास काफी तलाश की लेकिन जीशान के बारे में कहीं भी पता नहीं चला।

जीशान के लापता होने की जानकारी पावरलूम चलाने का कार्य करने वाले पिता मोहम्मद इसराईल को मिली तो उसने भी ग्रामीणों के साथ आसपास व रिश्तेदारों के वहां जीशान की तलाशी शुरू कर दी। देर शाम तक जब उसका कुछ पता नहीं चल सका तो उसने थाने पहुंचकर पुलिस को पूरे मामले की जानकारी देते हुए केस दर्ज करने के लिए तहरीर दी।

पुलिस ने भी बालक की तलाश की लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। इस बीच मंगलवार सुबह कुछ ग्रामीण इसराइल के घर से लगभग 200 मीटर दूर स्थित निर्माणाधीन इमारत की तरफ गए तो वहां उसकी दीवार से सटा हुआ जीशान का शव पड़ा दिखाई दिया।

इससे उनमें सनसनी फैल गई। देखते ही देखते बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर जुट गए। सूचना मिलते ही परिवारीजन भी रोते-पीटते मौके पर पहुंच गए। उधर, जानकारी मिलने पर एसओ परमानंद राम दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

बताया कि बालक के सिर पर चोट का निशान है। शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। अभी तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने पर केस दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। परिवारीजनों के अनुसार उनका गांव के ही कुछ लोगों से लंबे समय से भूमि विवाद चला आ रहा है। आशंका है कि इसी को लेकर जीशान की हत्या की गई है।