गणतंत्र दिवस से पहले बजेगी आतंकवाद की बैंड, ट्रंप और पीएम मोदी आज तय करेंगे रणनीति

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश से आतंकवाद का नामोनिशान ख़त्म करने की बात की थी। इसी क्रम में गणतंत्र दिवस से ठीक पहले इस्लामिक आतंकवाद का सफाया किया जा सकता है। इस मामले में पुख्ता तौर पर पुष्टि करने वाली खबर सामने आई है। इस सिलसिले में ट्रंप मंगलवार को पीएम मोदी से फोन पर बात करेंगे। इस बात की जानकारी अमेरिकी राष्‍ट्रपति कार्यालय व्‍हाइट हाउस ने दी है। बता दें ट्रंप ने भी राष्टपति पद को संभालने के बाद इस बात का ऐलान कर दिया था कि किसी भी सूरत में अब वे दुनिया से इस्लामिक आतंकवाद का सफाया करके रहेंगे। इसलिए पीएम मोदी से होने वाली इस बात को काफी ख़ास माना जा रहा है।आतंकवाद-का-सफाया

ट्रंप ने 20 जनवरी को राष्‍ट्रपति पद की शपथ ली थी। उन्‍होंने पिछले साल आठ नवंबर को हुए चुनावों में हिलेरी क्लिंटन को हराया था। मोदी ने जीत के बाद ट्रंप को बधाई भी दी थी।

पीएम मोदी दुनिया के ऐसे पांचवें नेता होंगे जिनसे ट्रंप ने राष्ट्रपति पद संभालने के बाद बात की। इससे पहले ट्रंप ने कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो, मैक्सिको के पीएम पेना नीटो से बात की थी। रविवार को ट्रंप ने इस्राइल के पीएम बेंजामीन नेतन्याहू और मिस्र के राष्ट्रपति अब्दुल फतेह अल सीसी से फोन पर बात की थी।

 इससे पहले डोनाल्ड ट्रंप के अमेरिकी राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने पर पीएम मोदी ने उन्हें बधाई दी थी। मोदी ने ट्रंप के शपथ लेने के तुरंत बाद ही ट्वीट कर कहा ‘अमेरिका का राष्ट्रपति पद संभालने पर आपको बधाई, उम्मीद है कि आने वाले वर्षों में आप अमेरिका को और बड़ी उपल्बधियां प्रदान करेंगे।’

अब देखना ये है कि पीएम मोदी से ट्रंप की ये बातचीत किस दिशा में जाती है। वक्त के साथ ही इस बात का खुलासा होगा। अभी इस सिलसिले में साफतौर पर कुछ भी नहीं जा सकता।