Monday , June 13 2022
Home / देश / Russia Ukraine war: क्या यूक्रेन में भारतीय छात्रों को ‘बंधक’ बनाया गया? विदेश मंत्रालय ने रूस के दावे पर दिया ये जवाब

Russia Ukraine war: क्या यूक्रेन में भारतीय छात्रों को ‘बंधक’ बनाया गया? विदेश मंत्रालय ने रूस के दावे पर दिया ये जवाब

रूस के रक्षा मंत्रालय के द्वारा बुधवार को एक प्रेस वार्ता में यूक्रेनी सेना पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने कई भारतीय छात्रों को अगवा कर लिया है। अब इस मामले पर विदेश मंत्रालय की सफाई सामने आई है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि यूक्रेन में हमारा दूतावास वहां फंसे भारतीय नागरिकों के साथ लगातार संपर्क में हैं। अधिकारियों ने कहा कि यूक्रेनी अधिकारियों के सहयोग से, कई भारतीय छात्रों ने कल खार्किव छोड़ दिया है। हमें किसी भी बंधक स्थिति की कोई रिपोर्ट नहीं मिली है।

भारत स्थित यूक्रेन दूतावास ने भी किया खंडन
इस संबंध में सवाल पूछे जाने पर भारत में यूक्रेन के राजदूत इगोर पोलिखा ने इन आरोपों का जोरदार तरीके से खंडन किया और खारिज करते हुए कहा कि यूक्रेन स्वयं लहूलुहान है, वह देश में फंसे हुए सभी विदेशी छात्रों की मदद कर रहा है। उन्होंने कहा कि हमने शरणार्थियों की भारी भीड़ के बीच पश्चिमी सीमाओं को पार करने की कोशिश कर रहे छात्रों के मुद्दे को कम करने की अपनी ओर से पूरी कोशिश की और यह समस्या मूल रूप से हल हो गई है। जहां तक मुझे पता है, पश्चिमी सीमा की ओर से भारतीयों का पहला जत्था खारकीव को छोड़ चुका है।

उधर, रूसी अधिकारी द्वारा साझा किए गए विवरण के अनुसार, रूसी रक्षा मंत्रालय ने यह भी दावा किया कि यूक्रेनी अधिकारियों ने छात्रों को पेशकश की है कि वे पोलैंड के साथ देश की सीमा के माध्यम से यूक्रेन से बाहर निकल सकते हैं। जबकि पोलिश सीमा का रास्ता एक सक्रिय युद्ध क्षेत्र है।

रूसी रक्षा मंत्रालय ने यूक्रेनी सेना पर लगाया था आरोप
रूसी रक्षा मंत्रालय ने बताया कि  हमारी जानकारी के अनुसार, यूक्रेनी अधिकारियों ने भारतीय छात्रों के एक बड़े समूह को जबरन खारकीव में रोके रखा है, जो यूक्रेनी क्षेत्र छोड़कर बेलगोरोड जाना चाहते हैं। एक अधिकारी के अनुसार, बेलगोरोड रूस में एक सीमावर्ती क्षेत्र है और खारकीव से बहुत दूर नहीं है। 

new ad