Tuesday , June 14 2022
Home / Main slide / भारत ने अंग्रेजों को घर में पीटा, कोहली की विराट जीत

भारत ने अंग्रेजों को घर में पीटा, कोहली की विराट जीत

img_20161212100638मुंबई: भारत अपने कमाल के कप्तान कोहली के नेतृत्व में इंग्लैंड को एक बार फिर पीटा है। भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ चौथे मैच में बड़ी जीत दर्ज की है।

भारत और इंग्लैंड के बीच चौथे टेस्ट मैच के पांचवें दिन भारत ने इंग्लैंड को एक पारी और 36 रनों से हरा दिया है। अश्विन पांचवें दिन के हीरो रहे। अश्विन ने दोनों पारियों में 12 विकेट लिए। 
इसी के साथ ही भारत ने पांच मैंचों की सीरीज पर कब्जा जमा लिया है।  इससे पहले पांचवें दिन का खेल शुरू होने के कुछ ही देर बाद अश्विन ने बेयरस्टो को 51 के निजी स्कोर पर एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। वह अपने कल के स्कोर में केवल एक रन ही जोड़ सके। इसके बाद उन्होंने क्रिस वोक्स को खाता खोलने का मौका भी नहीं दिया और उन्हें 00 के स्कोर पर बोल्ड कर दिया।
इंग्लैंड की दूसरी पारी की कहानी
भुवनेश्वर कुमार ने पहले ओवर की ही दूसरी गेंद पर जेनिंग्स (0) को एलबीडब्ल्यू आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई। इसके बाद जडेजा ने कुक (18) को एलबीडब्ल्यू आउट कर इंग्लैंड को दूसरा झटका दिया। मोइन अली को तो जडेजा ने खाता तक खोलने का मैका नहीं दिया। रूट (77) को जयंत यादव ने एलबीडब्ल्यू आउट कर भारत को चौथी सफलता दिलाई। अश्विन कहां पीछे रहने वाले थे। उनकी गेंद पर स्टोक्स 18 रन बनाकर आउट हुए। चौथे दिन की आखिरी गेंद पर अश्विन ने जैक बॉल (2) को पार्थिव पटेल के हाथों कैच आउट करा भारत को छठी कामयाबी दिलाई।
विराट और जयंत ने रचा इतिहास 
मुंबई टेस्ट मैच के चौथे दिन कप्तान विराट कोहली और जयंत यादव ने इतिहास रचा। कोहली ने शानदार 235 रनों की पारी खेली। अपने टेस्ट करियर का तीसरा दोहरा शतक लगाया। इसके अलावा युवा खिलाड़ी जयंत यादव ने बेहतरीन 104 रनों की पारी खेली। उन्होंने अपने करियर का पहला शतक लगाया।
  
 कोहली और जयंत यादव के बीच हुई रिकॉर्ड साझेदारी 
कप्तान कोहली और ऑलराउंडर जयंत यादव ने आठवें विकेट की साझेदारी का 20 साल पुराना भारतीय रिकॉर्ड तोड़ा। इन दोनों के बीच आठवें विकेट के लिए 241 रनों की साझेदारी हुई। उन्होंने 1996-97 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मोहम्मद अजहरुद्दीन और मौजूदा हेड कोच अनिल कुंबले के बीच 161 रनों की साझेदारी का रिकॉर्ड तोड़ा। आठवें विकेट के लिए साझेदारी का वर्ल्ड रिकॉर्ड इयान ट्रॉट और स्टुवर्ट ब्रॉड के बीच है। इन दोनों ने 2010 में पाकिस्तान के खिलाफ लॉर्ड्स में 332 रनों की साझेदारी निभाई थी।
500 से ज्यादा टेस्ट रन बनाने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज 
विराट कोहली अपनी दोहरे शतक की पारी के दौरान एक सीरीज में 500 से अधिक टेस्ट रन बनाने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बने। उनसे पहले यह कारनामा सुनील गावस्कर दो बार कर चुके हैं। 1978-79 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 732 रन और 1981-82 में इंग्लैंड के खिलाफ 500 रन।कोहली से पहले केवल दो भारतीय कप्तानों ने एक कैलेंडर साल में 1000 से अधिक टेस्ट रन बनाए हैं। सचिन तेंदुलकर ने 1997 में जबकि राहुल द्रविड़ ने 2006 में यह कारमाना किया था।