Tuesday , June 14 2022
Home / Uncategorized / मिलिए पाकिस्तान के बम निरोधक दस्ते में शामिल पहली महिला से

मिलिए पाकिस्तान के बम निरोधक दस्ते में शामिल पहली महिला से

 

rafia-qaseem-baig_1481452019

रफिया कासिम बेग पाकिस्तान की उन महिलाओं में शुमार हैं जो अपने मुल्क की हिफाजत के लिए पुरुष साथियों से कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ने के लिए तैयार हैं। 29 साल की रफिया कासिम बेग खैबर पख्तूनख्वां की रहने वाली हैं।रफिया ने सात साल पहले पाकिस्तान की पुलिस फोर्स को ज्वॉइन किया था। अब वो पाकिस्तान की बॉम डिस्पोजल यूनिट (बीडीयू) का हिस्सा बन गई हैं। वो पहली ऐसी पहली पाकिस्तानी महिला बन गई हैं, जो बीडीयू में शामिल हो गई हैं।

रफिया ने हाल ही में अपने 31 पुरुष साथियों के साथ ट्रेनिंग पूरी की है। 15 दिन की ट्रेनिंग के बाद अब वो बॉम डिस्पोजल यूनिट में शामिल की गई हैं। रफिया को बम से संबधित सभी जानकारियां मुहैया कराई गई हैं, कि कैसे बम को पहचाना जाए और उन्हें किस तरह से डिफ्यूज किया जाए।इंटरनेशनल रिलेशंस में मास्टर्स करने वाली रफिया पढ़े- लिखे परिवार से ताल्लुक रखती हैं। रफिया ने इसके अलावा अर्थशास्त्र में भी स्नातकोत्तर की डिग्री हासिल की है। मास्टर्स के बाद रफिया ने इंटरनेशनल रेस्क्यू कमिटी में भी काम किया।

रफिया की पढ़ाई अभी खत्म नहीं हुई है। उन्होंने काम के साथ-साथ एलएलबी में भी दाखिला ले लिया। जिसकी अभी भी वो पढ़ाई कर रही हैं।

सात साल पहले हुए एक कोर्ट में बॉम ब्लास्ट के बाद उन्होंने इस विभाग का हिस्सा बनने का निर्णय किया। रफिया की पढ़ाई की वजह से उन्हें कई निजी संस्थानों में भी नौकरी ऑफर हुई थी, लेकिन रफिया को वो मंजूर नहीं था। उन्होंने अपने निश्चय के मुताबिक पुलिस फोर्स को ही ज्वॉइन किया

खैबर पख्तूनख्वा प्रांत एक ऐसा इलाका है जहां अक्सर आतंकवादी सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर हमले करते हैं।