लालू के जमीन पर बैठने पर नीतीश ने तोड़ी चुप्पी, कहा- ये मेरा फैसला नहीं

प्रकाशोत्सव के दौरान लालू प्रसाद के जमीन पर बैठने के मसले पर पहली बार प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा लालू जी को हमने जमीन पर नहीं बिठाया। कार्यक्रम का आयोजन गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी कर रहा था और पीएम, राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति के कार्यक्रम वहीं से तय किए जाते
हैं। नीतीश ने कहा कि इस मसले पर लालू जी ने भी अच्छा जवाब दिया है।
nitish-says-lalu-decided-to-sit-on-the-ground-not-mine_1484027548-1
नीतीश ने विवाद को जबरन जन्म देने वाले लोगों पर वार करते हुए कहा कि इस आयोजन से यह बात साफ  हो गई है कि बिहार से बाहर के लोग नहीं बल्कि यहीं के कुछ लोग बिहार को बदनाम कर रहे हैं। नीतीश ने बिहार को बदनाम कर रहे लोगों को सुधर जाने की नसीहत भी दी। साथ ही प्रकाश पर्व के सफल आयोजन पर पूरे प्रदेश के लोगों को बधाई दी।

 

गौरतलब है कि पीएमओ के दखल के बाद दो केंद्रीय मंत्रियों रविशंकर प्रसाद और रामविलास पासवान के लिए मंच पर जगह बनाई गई थी लेकिन लालू यादव को मंच पर जगह नहीं मिली और उन्हें नीचे बैठना पड़ा था। राजद कार्यकर्ताओं में इस बात पर नाराजगी है।

गौरतलब है कि पटना के गांधी मैदान में गुरू गोविंद सिंह के 350वें प्रकाश पर्व पर लालू यादव को मंच पर जगह नहीं मिली थी।  पीएमओ के दखल के बाद दो केंद्रीय मंत्रियों रविशंकर प्रसाद और रामविलास पासवान के लिए मंच पर जगह बनाई गई थी लेकिन लालू यादव को मंच पर जगह नहीं मिली और उन्हें नीचे बैठना पड़ा था। राजद कार्यकर्ताओं में इस बात को लेकर नाराजगी बढ़ गई।