मऊ में नोटबंदी के खिलाफ महिला कांग्रेस ने खोला मोर्चा निकाला मार्च

09maupic24-09-01-2017-1483971635_storyimage

घोसी में कांग्रेस की महिला प्रकोष्ठ के तत्वाधान में सोमवार को महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं ने नोटबन्दी के खिलाफ जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। इस अवसर पर महिला कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी कर केन्द्र सरकार की जन विरोधी नितियों का विरोध किया।

इस अवसर पर प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए महिला कांग्रेस की प्रभारी डा.राजेश्वरी पाण्डेय ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार ने नोट बन्दी कर गरीब और मजदूर जनता को मुसीबत में डाल दिया है। सरकार की गलत नितियों के कारण देश में आर्थिक इमजेन्सी के हालात बने हुए हैं। प्रधान मंत्री के 50 दिन के आश्वासन की अवधि खत्म हो जाने के बाद भी लोगों की समस्यायें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। केन्द्र सरकार नोट बन्दी के दो माह बाद भी यह बताने में नाकाम साबित हो रही है कि नोट बन्दी से कितना काला धन मिला और काला धन रखने वालों के खिलाफ कौन सी कार्रवाई की गयी।

महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष चम्पा भारद्वाज ने कहा कि नोट बन्दी से महिलाओं को सबसे ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ा। घरों में परिवार के विपदा के समय में काम आने वाले बचत के पैसे को भी सरकार ने बाहर निकलवा दिया। बैंकों के बाहर बड़ी संख्या में लोग अपने पैसे के लिए कई कई दिन तक लाइन में लगे रहे। इस अवसर पर कांग्रेस पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष राना खातून, अब्दुल मन्नान खान, नेसार अहमद खान, रामनिवास राय, रामअधार निराला, सुहेल अहमद,रामचन्द्र राय, शीला आदि रहे।