1338 केंद्रों पर उत्साह पूर्वक बच्चों का वजन

मऊ , शनिवार को राज्य पोषण मिशन के तहत आंगनवाड़ी केन्द्रों में वजन दिवस का आयोजन किया गया। प्रथम चरण में 1338 केंद्रों पर शिशुओं का वजन लिया गया। इसमें हरे, पीले एवं लाल श्रेणी के कुल एक लाख से ज्यादा बच्चों का वजन किया गया। वजन दिवस की मानीट¨रग के लिए जिले के बाल विकास से जुड़़े अधिकारियों के अलावा स्वास्थ्य, शिक्षा, राजस्व, निकाय सहित समस्त विभागों के अधिकारी, कर्मचारी लगाए गए थे। मुख्य विकास अधिकारी आशुतोष द्विवेदी ने जिलाधिकारी समेत अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा गोद लिये गये केंद्रों पर स्वयं जाकर कई बच्चों का वजन लिया। उन्होंने इस मौके पर कार्यकर्ताओं से भी जानकारी प्राप्त की गई। वजन दिवस को प्रभावी बनाने के लिए मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एके पांडेय ने भी शहर सहित कई केंद्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान जिला कार्यक्रम अधिकारी जया त्रिपाठी, स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आर के मिश्रा, डा. बृज कुमार, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी हरिवंश यादव आदि अधिकारियों ने भी कई केंद्रों पर जाकर बच्चों का वजन लिया। उधर वजन दिवस के अवसर पर आंगनबाड़ी केंद्रों पर सुबह 8 बजे से शाम चार बजे तक बच्चों का वजन लेने का कार्यक्रम किया गया। जिले में 0 से 5 वर्ष के ढाई लाख बच्चे हैं। इसमें प्रथम चरण के कुल 1 लाख 30 हजार के बच्चों का वजन किया जाना था। पिछले साल हुए वजन दिवस में कुल 6718 बच्चे अति कुपोषित मिले थे। इस बार के वजन दिवस पर कितने बच्चे कुपोषित मिले इसका रिकार्ड नहीं मिल सका है।

अब 13 दिसबंर को द्वितीय चरण

वजन दिवस का दूसरा चरण अब 12 के बजाए 13 दिसंबर को होगा। 12 को पर्व पड़ने के कारण वजन दिवस का कार्यक्रम एक दिन के लिए बढ़ा दिया गया। दूसरे चरण के वजन दिवस 1249 केंद्रों पर कराया जाएगा। जिले में कुल 2587 आंगनबाड़ी केंद्र है। दूसरे चरण में 1 लाख 18 हजार से ज्यादा बच्चों का वजन होना है।