Tuesday , June 14 2022
Home / Breaking News / एक साथ दफनाई गईं 11 लाशें, हत्याओं पर हुए अहम खुलासे

एक साथ दफनाई गईं 11 लाशें, हत्याओं पर हुए अहम खुलासे

 

murder_1483628805अमेठी जिले के बाजार शुकुल थाने के कस्बा महोना में एक घर में मिले सभी 11 लोगों के शवों को बृहस्पतिवार दफना दिया गया। एक साथ इतनी कब्रें खुदी देखकर लोगों का कलेजा कांप गया।शवों को बृहस्पतिवार सुबह कमरौली थाना क्षेत्र स्थित उनके पैतृक गांव बहादुरपुर लाया गया। दोपहर बाद भारी भीड़ की मौजूदगी में सभी को दफना दिया गया। इस दौरान पुलिस व प्रशासन के बड़े अधिकारियों के साथ बड़ी संख्या में आसपास के गांवों के लोग मौजूद रहे। murder_1483628856

पोस्टमार्टम के बाद जब शव घर पहुंचे तो उन्हें देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ लग गई।कमरौली थाने के बहादुरपुर गांव का रहने वाला जमालुद्दीन अरसा पूर्व से महोना कस्बे में बैट्री व गैसे चूल्हा रिपेयरिंग आदि की दुकान करता था।मामले पर खुलासा हुआ है कि निशाने पर महिलाएं ही थीं। सात लड़कियों व तीन महिलाओं समेत 10 लोगों की हत्या एक ही बांके से हुई है।अंतिम यात्रा मे शामिल हुए हजारो लोग।

बुधवार सुबह जमालुद्दीन (45) का शव जहां अपने ही घर में फांसी के फंदे पर झूलता मिला था वहीं जमालुद्दीन की पुत्री आफरीन (18), मरियम (11), सानिया (8) व उजमा (5) के अलावा जमालुद्दीन के छह वर्ष पूर्व मृत भाई शमसुद्दीन की पत्नी हुस्ना बानो (35), पुत्री रुबीना बानो (17) व तहसीन बानो (8) और जमालुद्दीन के भाई रईस (पांच वर्ष पूर्व लापता) की पत्नी तबस्सुम (30), पुत्री महक (7) व निगार फातिमा (6) के शव रजाई से ढके मिले थे।इन सभी की गला काटकर हत्या की गई थी। घटना के बाद मौके पर पहुंचे अधिकारियों की मौजूदगी में सभी के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए जिला अस्पताल सुल्तानपुर भेजा गया था।

बृहस्पतिवार सुबह सभी मृतकों के शव कड़ी सुरक्षा के बीच बहादुरपुर गांव लाए गए। दोपहर बाद गांव के कुछ दूर पर स्थित सहाबा में सभी के शवों को दफन कर दिया गया।

मृतकों को दफन किए जाते वक्त न सिर्फ बड़ी संख्या में हुजूम मौजूद रहा बल्कि एएसपी टीएन त्रिपाठी के अलावा पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे। एक साथ अलग-अलग कब्र में 11 शवों को दफन करते वक्त भीड़ में मौजूद हर किसी की आंखें नम हो गईं।