Tuesday , June 14 2022
Home / पूर्वांचल / गाजीपुर / अंतिम दिन 40 लाख जमा

अंतिम दिन 40 लाख जमा

पुराने 500 और 1000 के नोट जमा करने के अंतिम दिन शुक्रवार को करीब 40 लाख रुपये जमा हुए। बैकों में पुराने नोट जमा करने वाले लोगों की भीड़ नहीं थी, एटीएम पर भी सामान्य स्थिति रही। लोग एटीएम से 2000 रुपये निकल रहे है। जबकि खाताधारकों को चेक बुक और निकासी फार्म से 24000 हजार रूपये आसानी से मिल रहे हैं। नोटबंदी के शुरूआती दौर में  लोगों को दिक्कतों  का सामना करना पड़ा, लेकिन अब स्थिति सामान्य होने लगी है।40-million-deposit-on-the-last-day_1483120304
 
नोटबंदी से लेकर अब तक करीब सात अरब से उपर 500 से 1000 हजार के पुराने नोट जमा हो चुके है। बैंकों की विभिन्न शाखाओं में आज पुराने 500 और 1000 के नोट जमा करने वालों की भीड़ काउंटर पर नहीं दिखाई पड़ी। घर में बचे पुराने इन नोटों को जमा करने आए लोगों ने 500 और 1000 के तीन से चार ही नोट जमा किए। कैश काउंटर पर पैसा जमा कर रहे लोगों ने बताया कि अब पुराने नोट जमा करने के अंतिम दिन जो भी घर में एक-दो 500 और 1000 के नोट बचे हुए थे।

उसे जमा करने का काम किया गया है। बताया किहम लोगों के पास अब पुराने पांच सौ और हजार के नोट नहीं हैं।कहा कि अब तो पैसे के लिए बैंक और एटीएम में लाइन भी नहीं लगानी पड़ रही है। उम्मीद हैकि जल्द ही एटीएम से लिमिट भी खत्‍म हो जाए।अब बैंकों और एटीएम से कैश लेने में किसी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ रहा है। वैसे अभी भी ग्रामीण क्षेत्र के बैंक शाखाओं में लीड बैंक से कैश पर्याप्त नहीं मिलने से खाताधारकों को पैसा उपलब्ध कराने में थोड़ी सी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में यूनियन बैंक का एलडीएम मिथलेश कुमार ने बताया कि अभी तक पुराने 500 और 1000 के कुल सात अरब से ऊपर जमा हुए है।

आज अंतिम दिन 40 लाख रुपये जमा हुए है। उन्होंने बताया कि एक सप्ताह में पेंशनरों का पेंशन वितरण करने के लिए दो अरब की आवश्यकता है। जबकि आरबीआई से नोटबंदी के बाद आज तक तीन अरब ही कैश उपलब्ध कराया गया है।  यूनियन बैंक के एलडीएम  मिथलेश कुमार गाजीपुर में का  ने बताया कि अभी तक पुराने 500 और 1000 के कुल सात अरब से ऊपर जमा हुए है। आज अंतिम दिन 40 लाख रुपये जमा हुए है।