सात किसान सम्मानित

seven-farmers-honored_1483040596मुख्य विकास अधिकारी शीतला प्रसाद श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट प्रेक्षागृह में दो दिवसीय संगोष्ठी व किसान मेला का आयोजन उद्यान विभाग की ओर से किया गया। इस मौके पर सात किसानों को सम्‍मानित किया गया। मेले में जिला उद्यान अधिकारी हरीशंकर राम ने बताया कि शासन की मंशानुरूप बागवानी क्षेत्र में रूचिकर एवं औद्यानिकी क्षेत्र में प्रगतिशील योजनार्न्तगत विभिन्न कार्यक्त्रस्मों में लाभान्वित लगभग 500 कृषकों को प्रतिभाग कराया जा रहा है।
प्रगतिशील कृषकों को विकसित नवीन तकनीकी जानकारियां एवं विभिन्न प्रजातियों के बारे में कृषि वैज्ञानिकों ने बहुमूल्य सुझाव दिए। इस अवसर पर प्रगतिशील किसान रामअवध मौर्य, धर्मपाल मौर्य, गोकुल प्रसाद, राममनोहर सिंह, श्याम बिहारी पटेल, पन्नालाल, राजदेव उपाध्याय को फसलों के अच्छे पैदावार के लिए मुख्य अतिथि ने सम्मानित किया । इस अवसर पर कृषि विज्ञान केन्द्र बक्शा के वैज्ञानिक डा. सुरेश कुमार कन्नौजिया ने जैविक खेती, कम्पोस्ट खाद, एक हेक्टेयर खेत के मेड़ों पर एक हजार इकोलिप्टस लगाकर लगभग तीन वर्ष में दस लाख रू पये किसान कमा सकते है।

उपनिदेशक कृषि अशोक उपाध्याय ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में बताया। कहा कि अधिक से अधिक किसान भाई 31 दिसम्बर तक इसका लाभ उठा सकते है। डा. रजनीश सिंह, डा. एके सिंह, डा. शिव अचल पटेल ने  विचार व्यक्त किया। सीडीओ शीतला प्रसाद श्रीवास्तव ने बताया कि 30 वर्ष पूर्व किसानों द्वारा उर्वरक का प्रयोग नहीं किया जाता था।  किसान भाई अपने खेतों की मिट्टी की जांच कराकर ही जैविक खाद का प्रयोग करें। संचालन अश्वनी कुमार सिंह ने किया।