Tuesday , June 14 2022
Home / Main slide / तस्करी को जा रहे मवेशी लदे ट्रक को पकड़ा

तस्करी को जा रहे मवेशी लदे ट्रक को पकड़ा

तस्करी के लिए बिहार ले जाए जा रहे मवेशी से लदे सात ट्रक को सहजनवां पुलिस ने सोमवार तड़के गीडा क्षेत्र में घेरेबंदी कर पकड़ लिया। इस दौरान तस्करों ने पुलिस टीम पर फायरिंग भी की। पुलिस ने मौके से दो तस्करों को असलहा के साथ गिरफ्तार कर लिया। हालांकि बाद में पशु व्यापारियों द्वारा जरूरी कागजात दिखाने के बाद छह ट्रक को छोड़ दिया गया। एक ट्रक में लदे बैलों को ग्रामीणों के सुपुर्द कर दिया गया।crime-top
 
एसएसपी के निर्देश पर सीओ कैंपियरगंज मनोज पांडेय के नेतृत्व में सहजनवां पुलिस जांच कर रही थी। इसी दौरान पुलिस को तस्करी कर मवेशी ले जाने की जानकारी मिली। इसके बाद पुलिस गीडा के पास से ट्रकों को ओवरटेक कर रोका तो तस्करों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। फायरिंग की आड़ में कुछ तस्कर भागने में सफल रहे। पड़ताल के दौरान एक ट्रक में 10 जोड़ी बैल तथा अन्य छह ट्रकों में दुधारू जानवर मिले। व्यापारियों द्वारा कागजात दिखाने के बाद दुधारू जानवरों को छोड़ दिया गया। बैलों को पुलिस ने बड़गहन निवासी संजय पांडेय, वीरेंद्र यादव तथा महेश आदि समेत कुल नौ लोगों के सुपुर्द कर दिया।

पकड़े गए तस्कर की पहचान हरिद्वार के मंगलोर के हैदर अली और संतकबीरनगर, नंदौल के असलम अली के रूप में हुई है। असलम ने बताया कि पशुओं को बलरामपुर के एक दरगाह से उठाया गया था और बिहार के गोपालगंज स्थित कोहनी में बेचने के लिए ले जाया जा रहा था। इंस्पेक्टर सहजनवां राकेश यादव ने बताया की तस्करों के पास से एक कट्टा, एक कारतूस, खोखा व चाकू बरामद कर लिया है। आरोपी के खिलाफ पशु क्रूरता और हत्या की कोशिश का केस दर्ज कर पुलिस ने जेल भेज दिया।