Tuesday , June 14 2022
Home / Main slide / मायावती का बयान, परिवर्तन यात्रा नहीं जनता का ध्यान बांटो यात्रा

मायावती का बयान, परिवर्तन यात्रा नहीं जनता का ध्यान बांटो यात्रा

mayawati-1लखनऊ। बसपा मुखिया मायावती ने भाजपा की परिवर्तन यात्रा को ’ध्यान बांटो यात्रा की संज्ञा दी है। उन्होंने कहा है कि लोकसभा चुनाव की वादाख़लिाफी से जनता का ध्यान बांटने के लिए ही इन यात्रओं का आयोजन किया गया।उन्होंने शनिवार को जारी बयान में कहा कि भाजपा ने इन यात्राओं में पूरी ताक़त झोंक दी।

बसपा प्रमुख का कहना है कि केन्द्रीय मंत्रियों की पूरी फौज को पूरे तामझाम के साथ मैदान में उतारा गया लेकिन बावजूद इसके इनकी वादाख़लिाफी के कारण लोगों में यात्रओं के प्रति उत्साह की जबरदस्त कमी देखी गई। यह हाल तब है जबकि कई स्थानों पर खुद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व नरेन्द्र मोदी खुद इन यात्रओं में शामिल हुए थे।

उन्होंने कहा कि यात्रओं में भाजपा के नेता, टिकटार्थियों एवं भाड़े पर लाए गए लोगों की ही भीड़ ज्यादा थी तथा आमजनता की भागीदारी काफी कम, क्योंकि जनता यह मानती है कि जिन वायदों के बल पर भाजपा को लोकसभा चुनाव में प्रचण्ड सफलता मिली थी उसका एक चौथाई से भी कम इन्होंने काम किया है।

मायावती ने कहा कि मोदी सरकार ने विफलताओं से जनता का ध्यान बांटने के लिए ही जल्दबाज़ी में अपरिपक्व तरीके से नोटबन्दी का फैसला लिया था। इसे कालाधन व भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई का चोला पहनाकर गुमराह करने का प्रयास किया लेकिन जनता के हितों के खिलाफ साबित होकर फैसला भाजपा व मोदी सरकार के गले की हड्डी बन गया है। मोदी सरकार जनता का ध्यान बांटने के लिए लगातार नए-नए हथकण्डे अपना रही है और नाटकबाजी कर रही है। किन्तु इनका इस प्रकार का हर कदम जनता के दुखों को कम करने के बजाए, उनकी तकलीफों को बढ़ाने वाला ही साबित हो रहा है।