‘बिग बॉस 13’ जीतते ही बोले सिद्धार्थ- ‘मैं यहां किसी को हराने नहीं, बल्कि खुद को जिताने आया था’

Image result for sidharth shukla bigg boss images

टीवी के सबसे लोकप्रिय रियलिटी शो बिग बॉस के तलबी लोगों की त्योरियां तब चढ़ गईं, जब बिग बॉस ने शो के इस सीजन का विजेता शो के पहले दिन से ही छाए रहे प्रतियोगी सिद्धार्थ शुक्ला को घोषित कर दिया। शो के अंत के कुछ दिनों पहले ही न जाने कहां से शो के दूसरे प्रतियोगी आसिम रियाज के प्रशंसक उमड़ पड़े, जिन्होंने आसिम को जिताने के लिए सोशल मीडिया पर सहयोग की बाढ़ सी ला दी। फिर भी नतीजा यह हुआ कि बिग बॉस 13 की ट्रॉफी उन्हीं हाथों में गई, जो उसके असली हकदार थे।

अमर उजाला की सिद्धार्थ शुक्ला से खास मुलाकात में उन्होंने कहा कि यह ट्रॉफी लेना उनका लक्ष्य था। वह कहते हैं, ‘जब किसी लक्ष्य तक पहुंचने के लिए आप जो रास्ते का खाका तैयार करते हो, और अपनी तय योजना के अनुसार ही आप अपने लक्ष्य को प्राप्त कर लेते हैं तो अच्छा लगता है। शुरुआत से ही मेरी नजर उस ट्रॉफी पर थी, और अंत में मैं जीतकर खुश हूं।’

सिद्धार्थ का बिग बॉस से पहले का सफर भी बहुत अच्छा रहा है। वह हंसते हुए कहते हैं कि इस शो ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है, जिसमें से सब्जी-तरकारी बनाना और काटना एक हैं। उन्होंने कहा, ‘अब मैंने अब इतना बड़ा शो जीत लिया है। फिर भी बाहर जाकर मुझे काम नहीं मिला, तो मैं ढाबा खोल लूंगा और सब्जी रोटी बनाऊंगा।’

अपने प्रतियोगियों के बारे में सिद्धार्थ कहते हैं, ‘सभी से मेरा मुकाबला बहुत कड़ा था। सभी बहुत मजबूत खिलाड़ी थे। मैं इस शो को जीतने के लिए मुकाबला तो कर रहा था, लेकिन किसी से मुकाबला नहीं कर रहा था। वहां अगर कोई और भी होता, तो भी मेरा लक्ष्य वो ट्रॉफी ही थी। मैं वहां किसी को हराने के लिए नहीं, बल्कि खुद जीतने के लिए खेल रहा था।’

शो के होस्ट सलमान खान की तारीफ करते हुए सिद्धार्थ ने कहा, ‘वह बहुत अच्छे होस्ट और इंसान हैं। उन्होंने शो में की हुई मेरी सही और गलत चीजों को मुझे समझाया। यह मेरे लिए बहुत बड़ी बात थी कि एक इतना बड़ा स्टार मुझे समझा रहा है, मुझे अपना समय दे रहा है, उनका व्यक्तित्व इतना महान है। तो उनके साथ इतना वक्त बिताकर मुझे बहुत अच्छा महसूस हुआ।’

शो में घरवालों के मुद्दों को सुलझाने के लिए सलमान के हस्तक्षेप पर सिद्धार्थ ने बताया कि सलमान बहुत बढ़िया तरीके से मामलों को सुलझाते हैं। उन्होंने कहा, ‘वैसे भी किसी के साथ पक्षपात करके उन्हें मिलेगा क्या? मैंने शो में बहुत कुछ किया है, और मैं उसकी सफाई भी देता था कि मैंने ये क्यों किया है। वो समझते थे और उसके बाद जो वो मुझे समझाते थे, वो मैं समझता था। हमने बहुत सी बातों और मुद्दों का संवादों के जरिए आदान-प्रदान किया। कुछ वो समझे, और कुछ मैं समझा। अगर किसी बात को वो नहीं या मैं नहीं समझा सका, मैं फिर भी खुश हूं। उन्होंने जितना समय दिया, मेरे लिए वही बहुत बड़ी बात है।’

बिग बॉस में कमाई हुई शोहरत और दौलत के बाद सिद्धार्थ शो के अंदर पैदा हुए सारे गिले शिकवे यहीं छोड़ जाने की बात कहते हैं। वह कहते हैं, ‘बिग बॉस के घर में मैंने जो बुरा वक्त व्यतीत किया है, उसकी यादें भी मैं साथ लेकर नहीं जाना चाहता। मैं चाहता हूं कि बाकी के लोग भी शो के दौरान पिछले कुछ महीनों में हुई घटनाओं को भूल जाएं तो बेहतर है। इंसानों की तरह सिर्फ अच्छी बातों को गले लगाएं, और आगे बढ़ें।’