Monday , June 13 2022
Home / पूर्वांचल / गोरखपुर / सड़क हादसे में रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा का हाथ टूटा

सड़क हादसे में रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा का हाथ टूटा

कुशीनगर के एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए गोरखपुर आ रहे रेल राज्य व संचार मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनोज सिन्हा सड़क हादसे में घायल हो गए। बाएं हाथ में फ्रैक्चर होने पर उन्हें बेतियाहाता स्थित अपोलो हास्पिटल में दाखिल कराया गया था। देर रात उन्हें वहां से रेलवे अस्पताल शिफ्ट कर दिया गया। डॉक्टरों के मुताबिक खतरे की कोई बात नहीं है। हादसे की खबर पाते ही कई जनप्रतिनिधि व आला अफसर अस्पताल पहुंच गए।accident_1482523325
 
केंद्रीय राज्य मंत्री मनोज सिन्हा बाराबंकी (लखनऊ) से गोरखपुर आ रहे थे। उन्हें शनिवार की सुबह कुशीनगर के मालती पांडेय इंटरमीडिएट कॉलेज में नेशनल ऑप्टीकल फाइबर नेटवर्क सुविधा और वाईफाई से जुड़े हॉट स्पॉट का शुभारंभ करना है। यही नहीं, कप्तानगंज ब्लाक के बोदरवार और मगडींहा के ग्राम प्रधानों से वीडियो क्रांफ्रेंसिंग से बात भी करनी है, मगर अब इन कार्यक्रमों को लेकर असमंजस की स्थिति उत्पन्न हो गई है। संचार मंत्री को रात्रि विश्राम गोरखपुर के रेलवे वीआईपी गेस्ट हाउस में करना था।

उनका काफिला नौसड़ से आगे बढ़ रहा था कि राजघाट पुल के करीब गायत्री विद्यापीठ के पास उनके एस्कॉर्ट के सामने अचानक एक शख्स आ गया। उसे बचाने के लिए चालक ने पावर ब्रेक लगाया। इसके बाद काफिले में पीछे चल रही गाड़ियां आपस में टकरा गई। इस दौरान पीछे गाड़ी में मौजूद मंत्री के हाथ में चोट लग गई। संयोग अच्छा था कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ। काफिले में मंत्री के अलावा भी कई लोगों को हल्की चोटें आईं, जबकि कई गाड़ियां मामूली रूप से क्षतिग्रस्त हो गईं।

डॉक्टर के मुताबिक मनोज सिन्हा के बाएं हाथ में फ्रैक्चर है। एसपी सिटी हेमराज मीणा ने बताया कि काफिले के आगे चल रही एस्कॉर्ट के सामने एक शख्स के आ जाने पर चालक ने पावर ब्रेक मारा, जिसके बाद पीछे की गाड़ियां आपस में टकरा गईं। रेल राज्यमंत्री का हाल जानने अस्पताल पहुंचे भाजपाई

सड़क हादसे में घायल रेल व दूरसंचार राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनोज सिन्हा के घायल होने की खबर सुनते ही अपोलो हॉस्पिटल पर भाजपा नेताओें की भारी भीड़ जुट गई। उधर, पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव मिश्र, डीएम संध्या तिवारी, एसएसपी रामलाल वर्मा ने भी अस्पताल पहुंचकर मंत्री के स्वास्थ्य की जानकारी ली। 
सड़क हादसे के बाद मंत्री को पहले रेलवे गेस्ट हाउस ले जाया गया, जहां उन्होेंने बाएं हाथ में दर्द होने की बात बताई। गेस्ट हाउस में मौजूद सांसद शिव प्रताप शुक्ल, सांसद हरीश द्विवेदी, पंकज चौधरी मंत्री को साथ लेकर अपोलो हॉस्पिटल पहुंचे। मंत्री के घायल होने की सूचना तेजी से शहर में फैल गई और भारी संख्या में भाजपा नेता, रेलवे अधिकारी अस्पताल पहुंचने लगे।

अस्पताल पहुंचने वालों में एनईआर के सीपीआरओ संजय यादव, भाजपा क्षेत्रीय अध्यक्ष उपेंद्र शुक्ल, मंत्री शिव पाठक, पूर्व विधायक बजरंग बहादुर सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष जनार्दन तिवारी, महानगर अध्यक्ष राहुल श्रीवास्तव, भाजपा नेता नवीन श्रीवास्तव, अतुल कुमार भट्ट, प्रभाकर द्विवेदी, रत्नेश पांडेय, राधेश्याम रावत आदि शामिल थे।नौसढ़ पर कार्यकर्ताओं ने किया था स्वागत

सड़क हादसे के ठीक पहले नौसड़ चौराहे पर भाजयुमो महानगर अध्यक्ष रणजीत राय बड़े के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने रेल राज्यमंत्री का जोरदार स्वागत किया था। स्वागत के बाद ही मंत्री सरकारी गाड़ी की जगह एक नेता की गाड़ी में बैठ गए और रणजीत राय के साथ एक और युवक को गाड़ी में बैठा लिया था।