Tuesday , June 14 2022
Home / Main slide / डीआईओएस समेत नौ पर केस दर्ज

डीआईओएस समेत नौ पर केस दर्ज

भगमलपुर नगरा स्थित सुभावती देवी इंटर कालेज में सांसद और विधायक निधि से प्राप्त धनराशि के दुरूपयोग के मामले में  जिला विद्यालय निरीक्षक, बीएसए, छह परियोजना निदेशकों के अलावा कालेज प्रबंधक  के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायी गई है। विजिलेंस की ओर से कोतवाली में दर्ज वर्ष 2003 से 2011 के बीच हुए गबन के मामले में नामजद ज्यादातर अधिकारी रिटायर हो चुके हैं।
crime-rate-decrease-newstred-25-11-16-1-800x420केवल जिला विद्यालय निरीक्षक मौजूदा समय में इलाहाबाद में कार्यरत हैं, जबकि परियोजना निदेशक प्रमोद कुमार एक अन्य मामले में निलंबित चल रहे हैं। जानकारी के अनुसार सुभावती देवी इंटर कालेज भगमलपुर नगरा में सांसद निधि तथा विधायक निधि की आवंटित धनराशि के  घोटाले के आरोप में तत्कालीन बीएसए नाग सेन भास्कर, जिला विद्यालय निरीक्षक राजेंद्र प्रताप के अलावा तत्कालीन परियोजना निदेशक लक्ष्मीकांत चौधरी, अर्जुन राम, राम आसरे सिंह, जय प्रकाश पांडेय, रामआधार कुशवाहा और प्रमोद कुमार यादव सहित कालेज के प्रबंधक योगेंद्र यादव काफी दिनों से जांच के घेरे में थे।

इस मामले में शासन ने उच्च स्तरीय जांच बैठाते हुए उप्र सतर्कता अधिष्ठान लखनऊ को जांच सौंपी थी। जांच करते हुए विजिलेंस के अनुसचिव यतींद्र कुमार ने उपरोक्त सभी लोगों के खिलाफ गबन के मामले में विगत छह जुलाई को शासन को कार्रवाई के लिए पत्र लिखा। जिस पर शहर कोतवाली में उपरोक्त सभी आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने 409, 420, 467, 468, 471, 120 बी आईपीसी 13(2) भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इनमें से तत्कालीन जिला विद्यालय निरीक्षक राजेंद्र प्रताप मौजुूदा समय में इलाहाबाद में डायर के प्रिंसिपल हैं जबकि परियोजना निदेशक प्रमोद कुमार यादव को कुछ समय पहले निर्माण में ढिलाई बरतने पर निलंबित किया गया है।