Tuesday , June 14 2022
Home / पूर्वांचल / मऊ में अराजक तत्वों ने तीसरी बार क्षतिग्रस्त की अम्बेडकर की मूर्ति

मऊ में अराजक तत्वों ने तीसरी बार क्षतिग्रस्त की अम्बेडकर की मूर्ति

मऊ में अमिला ग्रामसभा स्थित अम्बेडकर चौक पर गुरुवार रात बाबा भीमराव अम्बेडकर की मूर्ति के दाहिने हाथ की अंगुली अराजक तत्वों ने तोड़ दी। सुबह इसका पता चलने पर दलित समाज के लोग आक्रोशित हो उठे और अमिला-अजमतगढ़ व अमिला-लाटघाट मार्ग पर साढ़े तीन घंटे तक जाम लगाया। घटना की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने समझा-बुझाकर लोगों को शांत कराया और दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई करने का आश्वासन दिया।

अम्बेडकर चौक स्थित बाबा भीमराव अम्बेडकर की मूर्ति क्षतिग्रस्त करने की यह तीसरी घटना है। प्रत्येक बार दलित समुदाय से जुड़े लोगों की समझदारी व प्रशासन के सहयोग से मूर्ति की मरम्मत कराकर मामले को शांत करा दिया गया। तीसरी बार अराजक तत्वों ने गुरुवार रात अम्बेडकर प्रतिमा की अंगुली तोड़ दी। इसकी जानकारी शुक्रवार सुबह हुई तो दलित समुदाय में आक्रोश फैल गया। लोगों ने नारेबाजी करते हुए अमिला-अजमतगढ़ व अमिला-लाटघाट मार्ग पर जाम लगा दिया।

सूचना पाकर घोसी के तहसीलदार सूर्यभान गिरी, घोसी के प्रभारी निरीक्षक आरके सिंह, अमिला चौकी प्रभारी अरुण कुमार दुबे, बोझी चौकी प्रभारी आरएन पाण्डे, थाना दोहरीघाट व कोपागंज से भी पुलिस बल पहुंच गया। पुलिस ने क्षतिग्रस्त प्रतिमा की मरम्मत कराते हुए लोगों को समझा-बुझा कर शांत कराया और दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई करने का आश्वासन दिया।

इस बार भी युवा दलित बुद्धजीवियों रिंकू भाई, रामशब्द, राजेश, हरिकेश, सुग्रीव भारती, उमेश, हनीफ अहमद आदि की समझदारीपूर्ण पहल और कोतवाल घोसी आरके सिंह व चेयरमैन घोसी चुन्नू भाई, चेयरमैन अमिला राजाराम सोनकर, आलोक जायसवाल, रामप्रसाद चौधरी आदि के सकारात्मक रवैये की वजह से प्रशासन के इस आश्वासन पर कि एक महीने लगातार पुलिस की ड्यूटी रहेगी और उपद्रवियों का पता लगाकर कार्रवाई की जाएगी, तब साढ़े तीन घंटे तक चला जाम समाप्त हुआ। जाम लगाने वालों में बुधिया, शारदा, फेकनी, चम्पा, सुमित्रा, गुड़िया आदि शामिल रहे।