Tuesday , June 14 2022
Home / पूर्वांचल / बलिया : आठ दिन में तीन हत्याए पुलिस लाचार

बलिया : आठ दिन में तीन हत्याए पुलिस लाचार

LNTNEWS
बलिया में क्राइम चरम पर , पुलिस लाचार

बलिया :साल के अंतिम महीने में जिले के बेखौफ अपराधियों ने पुलिस के सामने  चुनौती पेश की है। एक सप्ताह के अंदर तीन हत्याएं हुईं, जबकि अब तक खुलासा एक का भी नहीं हो सका है। पुलिस का कहना है कि तीनों मामलों की गहराई से छानबीन की जा रही है। कुछ दिनों बाद होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी पुलिस के लिये तीनों हत्याकांडों की तह तक पहुंचना काफी मुश्किल लग रहा है। लोगों का कहना है कि कुछ दिनों के अंदर हुई तीन लोगों की हत्या में शामिल अपराधी अगर नहीं पकड़े जा सके तो आने वाले समय में यह पुलिस के लिये बड़ा सिरदर्द बनेंगे।

केस: एक

गड़वार थाना क्षेत्र के कुरेजी गांव के राकेश सिंह की चौदह वर्षीय पुत्री रिया 14 दिसम्बर की शाम घर से शौच के लिये निकली। अगले दिन गांव के बाहर एक गड्ढे में उसकी लाश पुआल से ढकी मिली। इस मामले में पुलिस ने कुछ किशोरों से पूछताछ की लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। घटना से जुड़ी कड़ी कमजोर पड़ने के बाद पुलिस ने परिवार के लोगों से भी पूछताछ की, फिर भी हाथ खाली रह गया। गला दबाकर किशोरी की जान किसने ली है, यह अबभी बड़ा सवाल है। एसओ गड़वार अतुल राय का कहना है कि मामले की छानबीन चल रही है। हत्या से जुड़े साक्ष्य अभी नहीं मिल सके हैं। पूरा प्रयास किया जा रहा है निष्पक्ष जांच हो और व दोषी के खिलाफ कार्रवाई हो।

केस: दो

बैरिया थाना क्षेत्र के भरतछपरा गांव निवासी अधेड़ श्रीकिसुन यादव का शव 17 दिसम्बर की रात गांव के रास्ते पर पड़ा मिला। उनकी हत्या बदमाशों ने गोली मारकर कर दी थी। पुलिस गांव के ही निवासी शिक्षक व उसके भाई के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर जांच में जुट गयी। कई दिनों तक चली पूछताछ में आरोपितों से हत्या से जुड़ा कोई भी राज हासिल नहीं हो सका। इस मामले को कुछ लोगों ने राजनीतिक रंग देने का भी प्रयास किया, लेकिन पुलिस अपनी निष्पक्ष जांच पर तटस्थ रही। वैसे इस वारदात में शामिल सही अपराधियों तक पहुंचने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी होगी। एसओ बैरिया केके तिवारी का कहना है कि जांच तेजी से की जा रही है। कौन दोषी है, यह मामले की पड़ताल में सामने आ जायेगा, जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी।

केस: तीन

भीमपुरा थाना क्षेत्र के मिठनुआ गांव निवासी वृद्धा रजवतिया देवी की लाश 18 दिसम्बर को उन्हीं के घर में पड़ी मिली। खास बात यह है कि लाश घर में रखी है, इसकी सूचना एक अज्ञात व्यक्ति ने गांव के ही एक युवक के मोबाइल पर फोन कर दिया। शुक्रवार को अपने साथ बाइक पर बैठाकर ले जाने वाला व्यक्ति व फोन करने वाला कौन है, यह जांच पुलिस कर रही है। काफी हद तक पुलिस को सफलता भी मिल चुका है। हालांकि हत्यारे तक पहुंचने में पुलिस को अभी और कुछ दिनों का समय लग सकता है। एसओ भीमपुरा राजनाथ यादव का कहना है कि मामले की छानबीन हो रही है। कुछ सुराग हासिल हुए हैं, जिसके आधार पर हत्या करने वाले तक पहुंचने का प्रयास किया जा रहा है।