बलिया में वैश्य समुदाय के लोगो को बदमाश युवकों ने घर में घुसकर पीटा

पकड़ी थाना क्षेत्र के जगदरा में पटाखा बजाने से मना करने पर मारपीट की घटना हुए 7 दिन हो गए ,लेकिन अपराधी बेख़ौफ़ खुलेआम घूम रहे है। इस घटना में आधा दर्जन लोग गम्भीर रूप से घायल है जिनका इलाज वाराणसी में चल रहा है।

दबे जुबान जगदरा के बनिया समाज अपने को कोस रहा है कि आज हमलोगों की राजनितिक पकड़ नही होने से राजपूत समाज उत्पीड़न कर रहा है।जिला प्रशासन मौन साधे हुई है।
ज्ञात हो कि प्रभुनाथ स्वर्णकार और गुप्ता परिवार के घर के पास शिवमंदिर पर कुछ दबंग राजपूत बिरादरी के युवक  पटाखा बजा रहे थे। प्रभुनाथ वर्मा ने ऐसा करने से मना किया। यह बात पटाखा बजाने वालों को नागवार लगी। वह घर जाकर कुछ लोगों को बुला लिए। इसके बाद प्रभुनाथ वर्मा  पिटाई शुरू कर दी। बीच बचाव करने गए अभिनव वर्मा (24), अतुल वर्म (30) दुर्गेश वर्मा (29), राकेश वर्मा (22) चंदन (31), मोहन (25) व ललिता देवी (50) और मनोज गुप्ता की भी पिटाई कर दी। पिटाई करने वाले इतना बेख़ौफ़ है कि पीड़ित को मुकदमा वापस करने का दबाव बना रहे है,समझौता नही करने पर जान से मारने की धमकी दे रहे है।
थानाध्यक्ष पकड़ी बच्चेलाल सरोज ने कहा कि अपराधियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।धमकी देने वालों युवकों की पहचान की जा रही है।