फर्जी रजिस्ट्री करने के आरोप में नायब तहसीलदार समेत तीन गिरफ्तार

 

सोनीपत के गन्नौर में नायब तहसीलदार द्वारा फर्जी कागजातों के आधार पर जमीन की रजिस्‍ट्री करने का मामला सामने आया है. इसकी एवज में नायब तहसीलदार ने 40 लाख रुपये की भारी रिश्‍वत भी ली थी. इसकी शिकायत मिलने पर पुलिस ने जांच के बाद नायब तहसीलदार जयवीर मलिक समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस इन्हें कोर्ट में पेश कर रिमांड मांगेगी ताकि ये पता लगाया जा सके कि जमीन के फर्जी कागजात कैसे तैयार किए गए थे और इनके साथ कौन-कौन लोग शामिल हैं.

सोनीपत के बड़ी गांव में नरेंद्रजीत नाम के शख्स की करीब 6 एकड जमीन थी, जिसे वह बेचना चाहता था. लेकिन उसके पास इसके कागजात नही थे. नरेंद्रजीत ने यह जमीन बेचने के लिए गन्नौर के नायब तहसीलदार जयवीर मलिक से सम्पर्क किया. जिसके बाद नायब तहसीलदार जयवीर मलिक ने रामसिंह भाटिया नाम के शख्स के साथ मिलकर जमीन के फर्जी कागजात तैयार करवाए और उसे बेच दिया गया. इसकी एवज में नायब तहसीलदार ने करीब 40 लाख रुपये की रिश्‍वत भी ली. इसकी शिकायत होने पर पुलिस ने जांच के बाद तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.