तीन तलाक के खिलाफ अभियान खुदा के रास्ते पर चले मुस्लिम समाज


muslim-womenमुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने सुलहकुल की नगरी से तीन तलाक के खिलाफ अलख जगाने का निर्णय लिया है। संगठन ने कहा कि तीन तलाक शैतान के रास्ते की तरह है, जिसे छोड़कर खुदा के रास्ते पर चलें। भटके हुए मुस्लिम सही रास्ते पर आएं। मंच तीन तलाक की प्रथा खत्म करने को देश में हस्ताक्षर और जागरूकता अभियान भी चलाएगा।

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की मंगलवार को हुई बैठक में तीन तलाक का मुद्दा छाया रहा। सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि तीन तलाक को किसी हाल में स्वीकार नहीं किया जाएगा। इसके खिलाफ देश में व्यापक जनजागरण होगा। मंच तलाकशुदा महिलाओं व बच्चों के कल्याण को शिक्षा, रोजगार, सुरक्षा उपलब्ध कराने के साथ उन्हें स्वावलंबी बनाएगा।

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार ने बताया कि विश्व के 48 मुस्लिम देशों में 23 मे तीन तलाक पर प्रतिबंध है। आगरा से जनजागरण कर हम यह संदेश देना चाहते हैं कि जो मुस्लिम भटक गए हैं, वह सही रास्ते पर आएं।

 

इंद्रेश कुमार ने फारुख अब्दुल्ला के कश्मीर से जुड़े विवादास्पद बयान पर कहा कि उन्हें यह नहीं भूलना चाहिए कि उनके खानदान की संपत्ति हिंदुस्तान की है। वहीं, असदउद्दीन ओवैसी के बयान पर उन्होंने भगवान से सद्बुद्धि देने की मांग की।