Tuesday , June 14 2022
Home / खेल / भारत को मिली सातवीं सफलता, जीत से 3 कदम दूर टीम इंडिया

भारत को मिली सातवीं सफलता, जीत से 3 कदम दूर टीम इंडिया

भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच के आखिरी दिन का खेल जारी है। खबर लिखे जाने तक इंग्लैंड ने 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बना लिए हैं। बटलर 02 रन बनाकर क्रीज़ पर मौजूद हैं।umeshyadav07

कुक और जेनिंग्स ने 103 रन की साझेदारी की लेकिन इसके बाद जडेजा ने कुक (49) को लेग स्लिप मे खड़े राहुल के हाथों कैच आउट करा कर भारत को पहली सफलता दिला दी। इसके बाद जडेजा ने अर्धशतक लगा चुके जेनिंग्स (54) का अपनी ही गेंद पर कैच लेकर आउट कर दिया। इसके बाद जडेजा ने जो रूट (06) को एलबीडब्ल्यू आउट कर इंग्लैंड को तीसरा झटका दे दिया। इशांत की गेंद पर बेयरस्टो (01) ने बड़ा शॉट लगाया, लेकिन जडेजा ने बेहतरीन कैच लेकर उन्हें पवेलियन की राह दिखा दी। टी-के बाद मोइन अली (44) ने जडेजा की गेंद को हवा में खेला और अश्विन ने एक बेहतरीन कैच पकड़ने में कोई गलती नहीं की। बेन स्टोक्स 23 रन पर खेल रहे बेन स्टोक्स जडेजा की गेंद पर नायर को कैच दे बैठे और भारत को मिली छठी सफलता। इसी के साथ पारी मेंं जडेजा ने 5 विकेट भी पूरे कर लिए। इसके बाद मिश्रा को डॉसन ने खाता तक खोलने का मौका नहीं दिया और उन्हें बोल्ड कर भारत को सातवीं सफलता दिला दी।

इससे पहले भारत ने पहली पारी 7 विकेट के नुकसान पर 759 रनों पर घोषित की। करुण नायर 303 रन और उमेश यादव 1 रन बनाकर नाबाद रहे। नायर की पारी की बौदलत भारत को 282 रन की बढ़त मिली थी। इस मैच में भारत ने टेस्ट की किसी पारी में अपना बेस्ट स्कोर भी बनाया। इससे पहले भारत का किसी पारी में सर्वाधिक स्कोर 726 रन था।

भारत के विशाल स्कोर में लोकेश राहुल के 199, पार्थिव पटेल के 71, आर अश्विन के 67 और रवींद्र जडेजा के 51 रनों का भी योगदान रहा। इंग्लैंड की ओर से स्टुअर्ट ब्रॉड और लियाम डॉसन ने 2-2 और स्टोक्स और राशिद ने 1-1 विकेट लिए।

इससे पहले इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में 477 रन बनाए थे, जिसमें बेयरस्टो ने 146, मोइन अली ने 88, लियाम डॉसन ने 66 और आदिल राशिद ने 60 रन बनाए थे। भारत की ओर से रवींद्र जडेजा ने 3 और उमेश यादव-इशांत शर्मा की जोड़ी ने 2-2 विकेट लिए थे।

भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच के आखिरी दिन का खेल जारी है। खबर लिखे जाने तक इंग्लैंड ने 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बना लिए हैं। बटलर 02 रन बनाकर क्रीज़ पर मौजूद हैं।

कुक और जेनिंग्स ने 103 रन की साझेदारी की लेकिन इसके बाद जडेजा ने कुक (49) को लेग स्लिप मे खड़े राहुल के हाथों कैच आउट करा कर भारत को पहली सफलता दिला दी। इसके बाद जडेजा ने अर्धशतक लगा चुके जेनिंग्स (54) का अपनी ही गेंद पर कैच लेकर आउट कर दिया। इसके बाद जडेजा ने जो रूट (06) को एलबीडब्ल्यू आउट कर इंग्लैंड को तीसरा झटका दे दिया। इशांत की गेंद पर बेयरस्टो (01) ने बड़ा शॉट लगाया, लेकिन जडेजा ने बेहतरीन कैच लेकर उन्हें पवेलियन की राह दिखा दी। टी-के बाद मोइन अली (44) ने जडेजा की गेंद को हवा में खेला और अश्विन ने एक बेहतरीन कैच पकड़ने में कोई गलती नहीं की। बेन स्टोक्स 23 रन पर खेल रहे बेन स्टोक्स जडेजा की गेंद पर नायर को कैच दे बैठे और भारत को मिली छठी सफलता। इसी के साथ पारी मेंं जडेजा ने 5 विकेट भी पूरे कर लिए। इसके बाद मिश्रा को डॉसन ने खाता तक खोलने का मौका नहीं दिया और उन्हें बोल्ड कर भारत को सातवीं सफलता दिला दी।

इससे पहले भारत ने पहली पारी 7 विकेट के नुकसान पर 759 रनों पर घोषित की। करुण नायर 303 रन और उमेश यादव 1 रन बनाकर नाबाद रहे। नायर की पारी की बौदलत भारत को 282 रन की बढ़त मिली थी। इस मैच में भारत ने टेस्ट की किसी पारी में अपना बेस्ट स्कोर भी बनाया। इससे पहले भारत का किसी पारी में सर्वाधिक स्कोर 726 रन था।

भारत के विशाल स्कोर में लोकेश राहुल के 199, पार्थिव पटेल के 71, आर अश्विन के 67 और रवींद्र जडेजा के 51 रनों का भी योगदान रहा। इंग्लैंड की ओर से स्टुअर्ट ब्रॉड और लियाम डॉसन ने 2-2 और स्टोक्स और राशिद ने 1-1 विकेट लिए।

इससे पहले इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में 477 रन बनाए थे, जिसमें बेयरस्टो ने 146, मोइन अली ने 88, लियाम डॉसन ने 66 और आदिल राशिद ने 60 रन बनाए थे। भारत की ओर से रवींद्र जडेजा ने 3 और उमेश यादव-इशांत शर्मा की जोड़ी ने 2-2 विकेट लिए थे।