बलिया बाइक सवार बदमाशों ने युवक को मारी गोली, गंभीर

बलिया : उभांव थाना के तेलमाजमालुद्दीनपुर गांव में पं. दीनदयाल इंटर कालेज के समीप मुख्य सड़क पर ही शनिवार की रात नौ बजे के आसपास बाइक पर सवार तीन बदमाशों ने रोहित धरिकार (24) ग्राम बभनौली निवासी को घेर लिया और गोली मारकर निकल भागे। बदमाशों ने गोली चलाने से पहले नाम पूछा और लगातार दो फायर झोंका और हथियार लहराते हुए निकल जाने में सफल हो गए।

रोहित इलाहाबाद में पालिटेक्निक की पढ़ाई करता है, जो वर्तमान में अपने घर आया था और तेलमाजमालुद्दीनपुर चट्टी स्थित अपने भाई आशीष धरिकार की वेल्डिंग  की दुकान से जनरेटर का एंगल भेजने के लिए रिक्शा लाने गया था। रोहित अपने भांजे प्रीतम के साथ बाइक से दुकान के समीप ही मुख्य सड़क से सटे एक रिक्शा चालक मंशा राम के यहां पहुंचा। जिससे वह एंगल ले जाने के लिए बात ही कर रहा था कि एक बाइक पर सवार तीन बदमाश पहुंचे और रोबदार अंदाज में पहले पूछा सोनू कौन है। इसके बाद इशारा मिलते ही उसने तुरंत फायर झोंक दिया। गोली रोहित के बाएं कनपटी व गर्दन को छूते हुए निकल गई। इस बीच दूसरे बदमाश ने बाइक से उतर कर कहा कि मेरी बहन को छेड़ते हो और एक और फायर झोंक दिया। इस बार गोली रोहित के दाएं सीने के करीब लगी, जिससे लहूलुहान हो वह मौके पर ही गिर पड़ा। बदमाश तुरंत निकल भाग जाने में सफल हो गए। घटना के तुरंत बाद लोगों ने उसे उपचार हेतु सीयर सीएचसी भर्ती कराया गया, जहां गंभीर हालत में उसे वाराणसी रेफर कर दिया गया। घटना के बाद से ही गांव में तनाव व भय व्याप्त है। इधर उभांव इंस्पेक्टर जयचंद्र भारती ने घटना के तुरंत बाद रात में ही घटनास्थल का मुआयना कर बदमाशों ककी गिरफ्तारी हेतु छापेमारी तेज कर दी। भारती ने दावा किया कि जल्द ही घटना का खुलासा कर कर दिया जाएगा।

तीन अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज

तेलमाजमालुद्दीनपुर गांव में फाय¨रग कर जानलेवा हमला मामले में घायल के साथ रहे भांजे प्रीतम कुमार कीे लिखित तहरीर पर पुलिस ने तीन अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। उभांव इंस्पेक्टर जयचंद्र भारती ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही हमलावर पकड़ में होंगे।

बदमाशों की गोली से जख्मी रोहित धरिकार के चचेरे भाई की रविवार को ही बरात जानी थी, जबकि शनिवार को जानलेवा हमले की खबर मिलते ही परिजनों में हड़कंप सा मच गया और बरात जाने की खुशी फीकी सी पड़ गई। शनिवार को घर में भतवान के कार्यक्रम में रोहित खुशी-खुशी शामिल हुआ था,रोहित रविवार को वाराणसी अस्पताल में परिजनों संग जीवन-मौत के बीच जूझता रहा, जबकि पूर्व से निर्धारित तिथि के अनुसार चचेरे भाई की बरात रविवार को काफी मायूसी के साथ निकला

 भूमि विवाद का मामला!

गोली मारने से पूर्व हमलावरों द्वारा फिल्मी अंदाज में नाम पूछने और फिर बहन के साथ छेड़खानी करने के आरोप लगाते हुए गोली मारने के पीछे कहीं आशनाई का मामला देखा जा रहा है। हालांकि पुलिस मामले की कई कोण से जांच कर रही है। इसे लेकर तरह-तरह की चर्चा व्याप्त है। हालांकि परिजन लगातार आशनाई के मामले से सीधे इंकार कर रहे हैं। पुलिस पीड़ित संग गांव में चल रहे भूमि विवाद की भी जांच कर रही है।