लंदन अटैक: 8 मिनट में न मारे जाते आतंकी तो हो जातीं सैकड़ों मौतें, 10 बड़ी बातें

लंदन के लंदन ब्रिज और बॉरो मार्केट के पास हुए आतंकवादी हमले में अब छह लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि पुलिस ने तीन संदिग्ध आतंकवादियों को मार गिराया है. मार्च के बाद से अब तक ब्रिटेन में तीन आतंकवादी हमले हो चुके हैं. अभी पिछले ही हफ्ते एक कसीनो में आईएस आतंकी ने हमला कर 20 लोगों की हत्या कर दी थी. आइए जानते हैं आज के लंदन अटैक की 10 बड़ी बातें:

1. लंदन पुलिस ने आतंकवादी हमले में शामिल 3 संदिग्ध आतंकवादियों को मार गिराया जबकि इस हमले में 6 लोगों ने अपनी जान गंवा दी.
2. पुलिस के मुताबिक, इस आतंकी घटना के बारे में जैसे ही पहली कॉल मिली उसके आठ मिनट के अंदर तीनों संदिग्ध को मार गिराया गया.
3. इस हमले में घायल करीब 30 लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया. इसके अलावा लंदन ब्रिज को पूरी रात के लिए बंद रखने का फैसला किया गया है.

4. बीती रात आतंकवादियों ने सफेद रंग की एक वैन को लंदन ब्रिज के पास फुटपाथ पर उतार दिया और पैदल चल रहे लोगों को अनियंत्रित अंदाज में कुचलता चला गया. चश्मदीदों के मुताबिक, इसके बाद इस वैन से एक लंबा चौड़ा आदमी निकाला जिसके हाथ में लंबी सी चाकू थी. वह वहां से पास के बॉर्क मार्केट में पहुंच गया और जो सामने आया उसको चाकू मारना शुरू कर दिया.
5. आठ मिनट के अंदर पुलिस पहुंची और उसने संदिग्ध लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. इसमें सभी तीन आतंकवादी मारे गए.
6. मारे गए संदिग्ध आतंकियों ने लंबी चाकू से पुलिस अधिकारियों पर भी हमला किया था. जांच में पता चला कि इन्होंने कमर में विस्फोटक भी पहन रखा था और किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के मकसद से निकले थे.
7. 80 से ज्यादा एम्बुलेंस ने इस आतंकवादी घटना के बाद पूरे हालात को संभालने के लिए काम किया. घायलों को छह अलग अलग अस्पतालों में एडमिट किया गया है.
8. पुलिस अधिकारियों ने मास अपील कर लोगों से इस हमले के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी, तस्वीरें और वीडियोज शेयर करने की अपील की है. गश्त टीम पूरे लंदन की गलियों में सर्च आॅपरेशन कर रही है.
9. अमेरिका सहित तमाम देशों ने अपने नागरिकों से फिलहाल लंदन घूमने के इरादे से न जाने की अपील की है.
10. भारत की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर गहरा दुख जताया है और पीड़ित परिवारों के प्रति उन्होंने सांत्वना जताई है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी ट्वीट कर कहा कि अगर कोई इस आतंकी घटना के कारण पीड़ित है तो वह ब्रिटेन में भारतीय उच्चायुक्त से संपर्क कर सकता है. उन्होंने वहां रह रहे भारतीयों से मेट्रोपोलिटन पुलिस के हर निर्देश और सुझाव पर गंभीर से गौर करने को कहा है.