Monday , June 13 2022
Home / राजनीति / राष्ट्रपति प्रणब की बात भी नहीं माने सांसद, दोनों सदनों में फिर किया हंगामा

राष्ट्रपति प्रणब की बात भी नहीं माने सांसद, दोनों सदनों में फिर किया हंगामा

img_20161209032538

नईदिल्ली:  नोटबंदी का आज 31वां दिन है। ऐसी उम्मीद की जा रही थी संसद में बहस शुरु होगी लेकिन दोनों सदनों में नोटबंदी पर भारी हंगामा हुआ है।

इस हंगामे के बाद लोकसभा और राज्यसभा दोनों 14 दिसंबर तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। इससे पहले संसद की कार्यवाही लगातार बाधित किए जाने और स्‍थगन को लेकर राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने नाराजगी जताई थी उन्‍होंने कहा कि संसद को बाधित किया जाना कतई स्वीकार्य नहीं है। नोटबंदी मामले में सदन की कार्यवाही में लगातार बाधा आने के कारण यह लगने लगा है कि मौजूदा संसद सत्र हंगामे भी भेंट चढ़ जाएगा। रक्षा संपत्ति संगठन की एक बैठक में मुखर्जी ने कहा, ‘ईश्वर के लिए, अपना काम करें। आप संसद में कामकाज चलाने के लिए हैं। उन्‍होंने कहा कि संसद को रोजाना बाधित करना किसी भी तरह से स्‍वीकार्य नहीं है। राष्‍ट्रपति ने यह बात चुनाव सुधार के मुद्दे पर विचार व्‍यक्‍त करते हुए कही।
rrr-10
राहुल गांधी ने कहा- सरकार बहस से भाग रही है। अगर वो मुझे बोलने दें तो आप देखेंगे कि किस तरह भूकंप आ जाएगा। हम एक महीने से नोटबंदी पर चर्चा करने की कोशिश कर रहे हैं। हम चाहते हैं कि सब दूध का दूध और पानी का पानी हो जाए। राहुल गांधी ने लगाया मोदी सरकार पर बड़ा आरोप, कहा- ये हिंदुस्तान के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला है। मैं लोकसभा में बोलना चाहता हूं, वहां सब बताऊंगा। मोदी जी वहां बैठ नहीं पाएंगे। संसद नहीं चलने से नाराज राहुल ने कहा- मैं नोटबंदी पर संसद में बोलना चाहता हूं लेकिन बोलने नहीं दिया जा रहा, चर्चा से घबरा रही है सरकार। प्रधानमंत्री पूरे देश में भाषण दे रहे हैं मगर लोकसभा में आने से डरते हैं।