बाबा रामदेव ने खुद बताया एक्सीडेंट मामले की सच्चाई

सोशल मीडिया पर वायरल हुई अपनी फोटोज पर योग गुरु बाबा रामदेव ने आखिर अपनी चुप्पी तोड़ दी। इन तस्वीरों का सच उन्होंने खुद बताया है।

मंगलवार को सोशल मीडिया पर योग गुरु बाबा रामदेव की कुछ पुरानी तस्वीरों और बिहार में हुए एक एक्सीडेंट की तस्वीरों को जोड़कर योग गुरु बाबा रामदेव के एक्सीडेंट की खबर फैला दिए जाने से हड़कंप मच गया। देर रात बाबा राम देव ने ट्विटर पर जानकारी दी कि वह पूर्ण रूप से स्वस्‍थ्य हैं और हरिद्वार में हजारों लोगों को योग की शिक्षा दे रहे हैं। इन अफवाहों पर भरोसा न करें।

मंगलवार को सोशल मीडिया पर इस तरह की तस्वीरें आने के बाद उनके शुभचिंतको और अनुयायियों ने खबर की सत्यता के लिए पतंजलि योगपीठ और योग गुरु बाबा रामदेव से जुड़े लोगों को फोन करना शुरु कर दिया।

पतंजलि सूत्रों ने बताया गया कि सोशल मीडिया पर किसी शरारती तत्वों ने बिहार में हुए एक्सीडेंट और वर्ष 2011 में पतंजलि से जौलीग्रांट हॉस्पिटल ले जाते वक्त कि योगगुरु बाबा रामदेव की तस्वीरों को जोड़कर इस तरह की अफवाह फैलाई गई।