गंगा के संरक्षण के लिए नीतीश ने राष्ट्रीय चर्चा कराए जाने का दिया सुझाव

पटना: गंगा नदी में पानी का बहाव घटने और फरक्का बांध के कारण नदी में बढ़ते गाद पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गंभीर चिंता जताई है. उन्होंने कहा कि फरक्का बांध के कारण राज्य में हर वर्ष बाढ़ आ रही है. कुमार ने बक्सर में जलाशय बनाने और इलाहाबाद-हल्दिया राष्ट्रीय जलमार्ग के रास्ते में उत्तरप्रदेश के अन्य स्थानों पर जलाशय बनाने के प्रस्ताव पर भी चिंता जताई. वह यहां गंगा पर अंतरराष्ट्रीय सेमिनार का उद्घाटन करने के बाद बोल रहे थे. दो दिवसीय सेमिनार का आयोजन राज्य के जल संसाधन विभाग ने किया है जिसका विषय है ‘अविरल गंगा’ और इसमें देश-विदेश में पर्यावरण और जल प्रबंधन पर काम करने वाले लोग शिरकत कर रहे हैं.

nitish-kumar_650x400_41484563205 (1)वक्ताओं में मैगसासाय पुरस्कार विजेता ‘जल पुरुष’ राजेन्द्र सिंह, पर्यावरणविद् और चिपको आंदोलन की नेता वंदना शिवा, पर्यावरणविद चंडी प्रसाद भट, पंजाब के पर्यावरणविद संत बलबीर सिंह सींचेवाल, अर्थशास्त्री भरत झुनझुनवाला और जयंत बंदोपाध्याय शामिल हैं. जर्मनी, नेपाल और बांग्लादेश के कुछ विशेषज्ञ भी सेमिनार में हिस्सा ले रहे हैं.